राख Raakh song lyrics in Hindi – Shubh Mangal Zyada Saavdhan

Raakh Lyrics in Hindi from movie Shubh Mangal Zyada Saavdhan, Song sung by Arijit Singh. Raakh Song is written by Vayu, music composed by Tanishk Bagchi. Starring Ayushmann Khurrana, Gajraj Rao, Neena Gupta. Music Label T-Series. if You like this song plz share and subscribe firstlyrics.in
  • गाना: राख
  • फिल्म: शुभ मगल ज्यादा सावधान
  • गीतकार: वायु
  • संगीतकार: तनिष्क बागची
  • गायक: आयुष्मान खुराना

Raakh Lyrics in Hindi

Lyrics

वो कहते हैं इश्क़ हद में करो
जो इश्क़ क्या है ना जाने
ये दिल तो अनपढ़ देहाती सा है
क्या कुछ लिखा है क्या जाने
बाहर से देखा जिन्होंने
अंदर चले क्या क्या जाने

हम जल जाएंगे राख बचेगी
इश्क़ में इतना आग बचेगी
फिर भी इन सीली आंखों में
आखिरी लॉ तक आस बचेगी

जल जाएंगे राख बचेगी
इश्क़ में इतना आग बचेगी
फिर भी इन् सीली आंखों में
आखिरी लॉ तक आस बचेगी

हम्म..
ओ..

चुप तो ना होगी मोहब्बत
दुशवारियों से डरा के
उम्मीद इसका लहू है
है दर्द इसकी खुराकें
जितने ज़ख़्म और जुड़ेंगे
उतना बढ़ेंगी ये शाखें

वो काट डाले हमें चाहे रोज़
ज़िद्द जड़ में है क्या करेंगे
एक प्यार एक जंग दोनों के दोष
एक घर में है क्या करेंगे

एक दिल ही खुद में बहोत है
किस किस की परवाह करेंगे

हम जल जाएंगे राख बचेगी
इश्क़ में इतना आग बचेगी
फिर भी इन सीली आंखों में
आखिरी लॉ तक आस बचेगी

जल जाएंगे राख बचेगी
इश्क़ में इतना आग बचेगी
फिर भी इन सीली आंखों में
आखिरी लॉ तक आस बचेगी


हम्म

Raakh Lyrics in Hindi

Lyrics

vo kahate hain ishq had mein karo
jo ishq kya hai na jaane
ye dil to anapadh dehaatee sa hai
kya kuchh likha hai kya jaane
baahar se dekha jinhonne
andar chale kya kya jaane

ham jal jaenge raakh bachegee
ishq mein itana aag bachegee
phir bhee in seelee aankhon mein
aakhiree lo tak aas bachegee

jal jaenge raakh bachegee
ishq mein itana aag bachegee
phir bhee in seelee aankhon mein
aakhiree lo tak aas bachegee

hamm..
o.

chup to na hogee mohabbat
dushavaariyon se dara ke
ummeed isaka lahoo hai
hai dard isakee khuraaken
jitane zakhm aur judenge
utana badhengee ye shaakhen

vo kaat daale hamen chaahe roz
zidd jad mein hai kya karenge
ek pyaar ek jang donon ke dosh
ek ghar mein hai kya karenge

ek dil hee khud mein bahot hai
kis kis kee paravaah karenge

ham jal jaenge raakh bachegee
ishq mein itana aag bachegee
phir bhee in seelee aankhon mein
aakhiree lo tak aas bachegee

jal jaenge raakh bachegee
ishq mein itana aag bachegee
phir bhee in seelee aankhon mein
aakhiree lo tak aas bachegee

o
hamm

Raakh song lyrics Video



More Song Lyrics of  Shubh Mangal Zyada Saavdhan


Post a Comment

0 Comments